Currency
Call Us at +91 - 7234 999 901 or Mail Us at enquiry@mycoursebook.in Cash On Delivery Available Across India over 20,000 + Pincodes and increasing daily
My Cart

Rajneeti Vigyan Ba 1 Year(MGKVP) | Pukhraj Jain - SAHITYA BHAWAN PUBLICATION

In stock
SKU

MCB-940

Special Price ₹289.00 Regular Price ₹350.00

 

 

DESCRIPTION:

 

पुस्तक का यह संस्करण गोरखपुर विश्वविद्यालय के बी. ए. (भाग I) के प्रथम एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र के नवीनतम् पाठ्यक्रम को पूर्णतया दृष्टि में रखते हुए तैयार किया गया है। इस बात की पूरी चेष्टा की गई है कि पुस्तक विद्यार्थियों के लिए एक श्रेष्ठतम पुस्तक की स्थिति प्राप्त कर सके।

राजनीति विज्ञान के अध्ययन विषय का तीव्र गति से विकास हो रहा है और विषय में नवीन प्रवृत्तियां प्रवेश कर रही हैं, जिनका सामान्य परिचय राजनीति विज्ञान के प्रारम्भिक विद्यार्थियों को भी प्राप्त होना चाहिए। इस बात को दृष्टि में रखते हुए सभी अध्यायों में नवीन प्रवृत्तियों की यथास्थान स्पष्टता और आवश्यक विस्तार के साथ विवेचना की गई है।
पुस्तक की भाषा शैली बहुत ही सरल और रोचक रखी गई है, जिससे विद्यार्थियों को विभिन्न देशों के संविधान और उनकी शासन-व्यवस्था को समझने में कोई कठिनाई न हो। विषय-सामग्री प्रस्तुत करने में प्रामाणिक स्रोतों का आश्रय लिया गया हैं और विद्यार्थियों को अस्पष्टता एवं सन्देह की स्थिति से दूर रखा गया है। विभिन्न पद और संस्थाओं के सम्बन्ध में आवश्यकतानुसार तुलनात्मक विवेचनाएं प्रस्तुत की गई हैं।

पुस्तक की समस्त विषय-सामग्री को ‘पूर्णतया अद्यतन’ बनाया गया है और इस दृष्टि से विभिन्न देशों के संविधान और शासन व्यवस्था के सम्बन्ध में नवीनतम स्थिति का उल्लेख है। अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव (2008) और 2 मई, 2010 में ब्रिटेन में जो आम चुनाव हुए उन चुनावों ने अब तक की राजनीतिक स्थिति से पूर्णतया भिन्न राजनीतिक स्थिति को जन्म दिया है। द्वितीय महायुद्ध के बाद से ही ब्रिटेन में द्विदलीय पद्धति तथा उसके परिणामस्वरूप एक ही राजनीतिक दल की सरकार चली आ रही थी। मई 2010 ई. के आम चुनावों ने ब्रिटेन में त्रिदलीय पद्धति और गठबंधन सरकार को जन्म दिया है। इस स्थिति के परिणामस्वरूप राज-व्यवस्था के व्यावहारिक स्वरूप में महत्वपूर्ण परिवर्तन हुए हैं। प्रस्तुत पुस्तक में इन सभी परिवर्तित स्थितियों का यथास्थान आवश्यक विस्तार के साथ उल्लेख किया गया है।

CONTENT:

 

राजनीति विज्ञान Political Science Syllabus For B.A. I Year of Gorakhpur University

प्रथम प्रश्न-पत्र: राजनीति विज्ञान के सिद्धान्त

  • राजनीतिशास्त्र: परिभाषा, प्रकृति, क्षेत्र, विधियां, अन्य शास्त्रों से सम्बन्ध-इतिहास, भूगोल, अर्थशास्त्र, समाजशास्त्र, मनोविज्ञान एवं नीतिशास्त्र।
  • व्यवहारवादी क्रान्ति, उत्तर-व्यवहारवाद।
  • राज्य:
  1. तत्त्व।
  2. उत्पत्ति: राज्य की उत्पत्ति के सिद्धान्त।
(अ) शक्ति सिद्धान्त,
(ब) सामाजिक समझौते का सिद्धान्त,
(स) ऐतिहासिक अथवा विकासवादी सिद्धान्त,
(द) माक्र्सवादी सिद्धान्त।
कार्य: उदारवादी, लोक-कल्याणकारी तथा समाजवादी सिद्धान्त अर्थ, सिद्धान्त, विशेषताएँ।
  • सम्प्रभुता: अर्थ, विशेषताएं, आॅस्टिन का सिद्धान्त, बहुलवादी आलोचना।
  • विधि परिभाषा, स्रोत, वर्गीकरण। दण्ड: दण्ड के सिद्धान्त।
  • स्वतंत्रता, समानता, सम्पत्ति, अधिकार।
द्वितीय प्रश्न-पत्र: सरकार के सिद्धान्त एवं प्रकार

खण्ड-अ

  1. संविधान निर्माण: परिभाषा, वर्गीकरण।
  2. सरकार के स्वरूप: प्रजातन्त्र तथा अधिनायकतन्त्र, संसदात्मक तथा अध्यक्षात्मक, एकात्मक तथा संघात्मक।
  3. सरकार का संगठन: कार्यपालिका, विधायिका, न्यायपालिका।
  4. निर्वाचन पद्धति: प्रतिनिधित्व के सिद्धान्त, आनुपातिक तथा सामान्य बहुमत प्रणाली।
  5. राजनीतिक दल: जनमत, दबाव समूह।

खण्ड-ब

  1. ब्रिटेन तथा अमेरिका का संविधान

राजनीति विज्ञान Political Science Book विषय-सूची

प्रथम प्रश्न-पत्र: राजनीति विज्ञान के सिद्धान्त

  1. राजनीति विज्ञान की परिभाषा, क्षेत्र तथा स्वरूप
  2. राजनीति विज्ञान की अध्ययन पद्धतियां
  3. राजनीति विज्ञान का अन्य सामाजिक विज्ञानों से सम्बन्ध
  4. व्यवहारवाद
  5. उत्तर-व्यवहारवाद
  6. राज्य और उसके तत्व
  7. राज्य की उत्पत्ति के सिद्धान्त
  8. राज्य के कार्य: उदारवाद, समाजवाद और लोककल्याणकारी राज्य
  9. सम्प्रभुता: आॅस्टिन का सिद्धान्त और बहुलवाद
  10. कानून और व्यवस्था
  11. दण्ड व्यवस्था के सिद्धान्त
  12. स्वतन्त्रता
  13. समानता
  14. सम्पत्ति
  15. अधिकार

द्वितीय प्रश्न-पत्र: सरकार के सिद्धान्त एवं प्रकार

  1. संविधान
  2. लोकतन्त्र और अधिनायकतन्त्र
  3. संसदात्मक व अध्यक्षात्मक शासन
  4. एकात्मक व संघात्मक शासन
  5. सरकार के अंग: व्यवस्थापिका: संगठन, कार्य और आधुनिक प्रवृत्तियां
  6. कार्यपालिका: संगठन, कार्य और आधुनिक प्रवृत्तियां
  7. न्यायपालिका: कार्य और आधुनिक प्रवृत्तियां
  8. प्रतिनिधित्व के सिद्धान्त
  9. राजनीतिक दल
  10. लोकमत
  11. दबाव समूह
  12. शक्तियों के विभाजन और नियन्त्रण तथा सन्तुलन का सिद्धान्त

ब्रिटेन का संविधान

  1. ब्रिटिश संविधान: विकास, महत्व और विशेषताएं
  2. संविधान के अभिसमय अथवा वैधानिक परम्पराएं
  3. सम्राट और राजमुकुट
  4. मन्त्रिमण्डल और प्रधानमन्त्री
  5. नौकरशाही या लोक सेवाएं
  6. संसद
  7. विधि का शासन और सर्वोच्च न्यायालय
  8. दलीय व्यवस्था

संयुक्त राज्य अमरीका का संविधान

  1. अमरीकी संविधान की पृष्ठभूमि, महत्त्व और विशेषताएं
  2. शक्तियों का पृथक्करण एवं नियन्त्रण तथा सन्तुलन
  3. अमरीका की संघीय व्यवस्था
  4. संधीय कार्यपालिका: राष्ट्रपति एवं केबीनेट
  5. कांग्रेस: संगठन और कार्य
  6. संघीय न्यायपालिका और न्यायिक पुनर्विलोकन
  7. दलीय व्यवस्था

Write Your Own Review
You're reviewing:

Rajneeti Vigyan Ba 1 Year(MGKVP) | Pukhraj Jain - SAHITYA BHAWAN PUBLICATION


Your Rating